Connect with us

50 करोड़ के धान खरीद घोटाले में CID ने दर्ज किये 24 केस, जानिए पूरा मामला

खबर सीधे आप तक

50 करोड़ के धान खरीद घोटाले में CID ने दर्ज किये 24 केस, जानिए पूरा मामला

राँची : झारखंड में धान खरीद के नाम पर बड़े पैमाने पर वित्तीय घोटाला
(Paddy Purchase Scam)
हुआ. अब इस मामले की जांच में तेजी आ गई है. सीआईडी (CID) ने इस मामले में अबतक 24 केस दर्ज किये हैं. 2011-12 से लेकर 2016-17 के दौरान धान खरीद में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी की शिकायतें मिलीं. फर्जी बिल (Fake Bill) के माध्यम से धान खरीद के नाम पर करोड़ों की निकासी की गई.
सीआईडी जांच में 50 करोड़ से अधिक के घोटाले की बात सामने आई है.
सीआईडी की विशेष टीम इस घोटाले की परतें उधेड़ने में जुटी है.

सीआईडी के अपर महानिदेशक अनिल पाल्टा ने कहा कि इस मामले में सभी 24 केसों की जांच चल रही है. जांच में सीआईडी को कई अहम साक्ष्य हाथ लगे हैं.
सीआईडी ने हजारीबाग में 4, पलामू, सरायकेला, गुमला और रांची में एक-एक केस दर्ज किया है.
अन्य जिलों में केस दर्ज हुए हैं.

अधिकारी से लेकर दलाल तक की मिलीभगत से घोटाला

धान खरीद के नाम पर इस घोटाला को पैक्स एवं कॉपरेटिव विभाग के अधिकारियों ने दलालों और राइस मिल मालिकों की मिलीभगत से अंजाम दिया. फर्जी बिल के आधार पर सरकारी पैसे का बंदरबांट किया.

यह मामला फिलहाल झारखंड हाईकोर्ट में है.हाईकोर्ट में चली रही सुनवाई

राज्य के खाद्य आपूर्ति मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा है कि धान खरीद के नाम पर 5 साल तक बड़े पैमाने पर गड़बड़ियां की गईं. लेकिन सीआईडी जांच में सच सामने आ जाएगा.
वहीं हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल कर इस घोटाला को न्यायालय के समक्ष लाने वाले अधिवक्ता राजीव कुमार ने कहा कि इस घोटाले में विभाग के बड़े लोगों का हाथ था.

पैक्स के जरिए राज्य के सभी जिलों में धान खरीद में बड़े पैमाने पर गड़बडियां की गईं. राज्यभर में जिला स्तर पर 48 केस दर्ज किये गये हैं, जिसमें सीआईडी के 24 केस दर्ज शामिल हैं.

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top