Connect with us

“सावधान जमशेदपुर” जमशेदपुर शहर में कोरोन वायरस COVID-19 के 5 नए पोजिटिव मरीज मिले,

खबर सीधे आप तक

“सावधान जमशेदपुर” जमशेदपुर शहर में कोरोन वायरस COVID-19 के 5 नए पोजिटिव मरीज मिले,

जमशेदपुर:- जमशेदपुर में बुधवार को कुल पांच पोजिटिव केस सामने आया है. इसके तहत जमशेदपुर के गोविंदपुर इलाके से पोजिटिव पाया गया है. बताया जाता है कि गोविंदपुर क्षेत्र में यह लड़की दिल्ली में पढ़ाई कर रही थी, जहां से वह अपने दादा के साथ वापस घर आयी थी. इसको लेकर लोगों ने काफी हो-हल्ला किया था, जिसके बाद लोगों की मांग पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उनका सैंपल लिया था. इस सैंपल की रिपोर्ट पोजिटिव आ गयी है. लड़की, उसके दादा और उसकी मां को पोजिटिव पाया गया है. इसके बाद लड़की, उसके दादा और उसकी मां को गोविंदपुर स्थित उसके घर से सीधे टीएमएच ले जाया गया जबकि उसके दादा समेत पूरे परिवार को टीएमएच ले जाया गया है. इसके बाद से गोविंदपुर रेलवे फाटक के पहले वाले एरिया को सील किया जा रहा है जबकि पूरे एरिया को कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है. इसको लेकर पूरी टीम को उतार दिया गया है. गोविंदपुर स्थित जेवियर स्कूल को क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है, जहां पर सभी को ले जाकर रखा गया है और सभी की अब बारी-बारी से चेकअप होगा. आसपास के दुकानों में वह लड़की और उसके दादा गये थे जबकि सारे लोगों से संपर्क में आये थे. अब तक करीब 20 लोगों की पहचान की गयी है. डीसी रविशंकर शुक्ला ने इसकी पुष्टि की है और कहा है कि गोविंदपुर में जो तीन लोग पोजिटिव पाये गये है, वे लोग एक ही परिवार के है. तीनों को लेकर माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनेगा, लेकिन मानगो और गोलमुरी के लोग चूंकि किसी के संपर्क में नहीं आये थे, इस कारण कोई कंटेनमेंट जोन नहीं बनेगा. मानगो व गोलमुरी के लोग एमजीएम में ही भरती है मानगो और गोलमुरी में एक-एक मरीज को पोजिटिव पाया गया है. एमजीएम अस्पताल में ये दोनों मरीज को पहले ही भरती कराया गया था. मानगो का युवक मुंबई से आया था जबकि एक युवक जो गोलमुरी का रहने वाला है, वह बंगलोर से आया था. ये दोनों आने के बाद से सीधे एमजीएम अस्पताल में ही भरती है, किसी भी व्यक्ति से वे लोग संपर्क में नहीं आये है. जमशेदपुर में पहले से ही छह मामला आ चुका है. 12 मई को पहले केस जमशेदपुर में चाकुलिया प्रखंड से आया था. जमशेदपुर के ग्रामीण इलाके में बंगाल से आये एक छात्र और एक छात्रा में कोरोना पोजिटिव पाया गया था, जिसके बाद उसको टीएमएच में भरती करा दिया गया था जबकि बाद में एक छात्रा का रिपोर्ट नेगेटिव आ गया था, लेकिन यह रिपोर्ट बदलता रहता है, लिहाजा, अब भी वह टीएमएच में ही इलाजरत है. उनके परिजनों को भी टीएमएच के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है और कंटेनमेंट जोन में भी टेस्ट हो चुका है, जिसमें सारे रिपोर्ट नेगेटिव आ चुके है. जमशेदपुर का तीसरा केस बारीडीह का रहने वाला युवक पोजिटिव पाया गया. वह भी बंगाल से आया था और सीधे एमजीएम अस्पताल में चेकअप करने के बाद सैंपल का टेस्ट हुआ था, जिसके बाद पोजिटिव पाया गया था. चूंकि, वह अपने बारीडीह स्थित ससुराल नहीं गया था, इस कारण कंटेनमेंट जोन नहीं बन पाया था. इसके बाद चौथा केस नयी दिल्ली से श्रमिक स्पेशल ट्रेन से रांची आये युवक का निकला, जो जमशेदपुर के पटमदा प्रखंड का रहने वाला है. वह भी सीधे हाइवे से जमशेदपुर आया तो अस्पताल में गया, जहां सैंपल का टेस्ट कराया और उसको मुसाबनी के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था. वहीं पर पोजिटिव आने की रिपोर्ट आयी, जिसके बाद टीएमएच लाया गया. पांचवां केस जमशेदपुर में 18 मई को आया. सिदगोड़ा बागुनहातू का रहने वाला युवक कोरोना पोजिटिव पाया गया. वह ट्रक से मुंबई से रांची आया और रांची से फिर से एक ट्रक से हाइवे पर आया. उसको एमजीएम अस्पताल के आइसोलेश़ वार्ड में रखा गया था, जहां पोजिटिव की रिपोर्ट आयी, जिसके बाद उसको टीएमएच में भरती करा दिया गया है. जमशेदपुर का छठा केस जुगसलाई के युवक का आया, जो जुगसलाई के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था. वह भी दिल्ली में पढ़ाई करता था, जहां से वह अपने घर जुगसलाई जाने के पहले टेस्ट कराया था, जिसकी रिपोर्ट 19 मई को आयी, जिसके बाद उसको सीधे टीएमएच में भरती करा दिया गया. अब पांच नये केस आने के बाद यह केस सीधे 11 हो गये है. अब कोल्हान में आठ केस सामने आया, अब हो गया 13 पोजिटिव मरीज 

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

To Top