Connect with us

सरपट दौड़ रही चौदह चका कोयला लदा वाहन

खबर सीधे आप तक

सरपट दौड़ रही चौदह चका कोयला लदा वाहन

टंडवा : शहीद चौक से होकर हो रहे कोयला ढुलाई से लोग काफी दहशत मे हैं। आम्रपाली से उड़सु शहीद चौक पांडेय मोड़ आदि जगहो से लंबी दुरी तयकर लातेहार जिला अंतर्गत बालुमाथ थाना क्षेत्र के फुलबसिया रेलवे साईडींग मे कोयला पहुंचाई जा रही। टंडवा के प्रसिद्ध सोमवार बाजार का दिन होने के बाउजूद दर्जनो चौदह चक्का कोयला लदा वाहन सड़को पर दिन भर दौड़ती रही। इस दौरान दो तीन मोटर साईकिल चालक हाईवा के चपेट मे आने से बाल बाल बच गया। उलेखनीय है कि एक सप्ताह पहले चट्टीगाड़ीलौंग के ग्रामीणो ने दिन रात कोयला ढुलाई मे नो इंट्री लगाने की मांग को लेकर उपायुक्त के नाम सिमरिया एसडीयो दीपू कुमार को आवेदन सौंपा है। जिसका प्रतिलिपि एसपी चतरा, अनुमंडल पदाधिकारी सिमरिया, एसडीपीयो टंडवा सीओ टंडवा तथा थाना प्रभारी टंडवा को दिया है। दिए आवेदन मे कहा है कि कोयला ट्रांस्पोटर शहीद चौक हरदियाबांध जोड़ा तलाब होते कोयला ढुलाई शुरु कर दिया गया है। जिससे सड़क किनारे बने मकानो तथा ग्रामीणो के समक्ष दुर्घटना को आमंत्रित कर रही है। जबकि सीसीएल प्रबंधन इसको ट्रांस्पोटींग सड़क नही मानती है। इसको बाउजुद कोयला ट्रांपोटींग मे लगे कंपनियों की मनमानी से कोयला ट्रांस्पोटींग जारी है। हर दिन सैकड़ो हाईवा ट्रको का परिचालन है। बताया कि उक्त सड़क किनारे चार आंगन बाड़ी केंद्र चार सरकारी विधालय एक प्लस टु तथा दर्जनो छोटे बड़े दुकान संचालित है। इसके बाद भी ग्रामीणो की मांग पर जिला प्रशासन व स्थानीय प्रशासन गंभीरता से नही लिया है। जिससे ग्रामीणो मे काफी आक्रोश देखा जा रहा है।
समाजिक कार्यकर्ताओं की पहल पर सीएस व चिकित्सक ने कराई ब्लड की व्यवस्था, प्रसव पीड़ा से झुझ रही महिला की बची जान।

चंदवा – कामता पंचायत कि ग्राम चटुआग निवासी लालु गंझु कि पत्नी सुबासो देवी का प्रसव रविवार अहले सुबह करीब 5 बजे घर पर हुई थी

बच्ची का जन्म मृत ही हुआ था, अधिक रक्तसाव होने के कारण महिला की स्थति गंभीर हो गई थी,

सास दिलमनीयां देवी श्वसुर दिलु गंझु ने आनन-फानन मे प्राईवेट बोलोरो से सीएचसी ला रहे थे

इसी क्रम में माकपा नेता अयुब खान को इसकी सूचना परिजनों ने दी, अयुब खान व पुर्व पंचायत समिति सदस्य फहमीदा बीवी ने अस्पताल आकर महिला को भर्ती कराया

तत्कालीन चिकित्सा प्रभारी नंदकुमार पॉडे ने उपचार कर ब्लड कि कमी व स्थति गंभीर देखकर उसे लातेहार सदर अस्पताल रेफर कर दिया, लेकिन परिजन अर्थाभाव गरीबी के कारण बाहर ले जाने से स्मर्थता जताई

यही ईलाज कराने की…
गली-चौबारे… साइकिल के धक्के की कमाई एक हजार

धनबाद

धनबाद स्टेशन रोड। एक अधेड़ कोयला लदी साइकिल को खींचे जा रहा था। रांगाटांड़ पहुंचने पर साइकिल की गति धीमी हो जाती है। तभी पीछे से बाइक सवार एक युवक साइकिल को अपने पैरों से धक्का देने लगता है। युवक की उम्र्र यही कोई 20-22 वर्ष होगी। पसीने से तरबतर साइकिल सवार बेकारबांध के पास रुक जाता है। साथ चल रहा बाइक सवार भी पास आकर खड़ा हो जाता है। साइकिल सवार जेब से 100 रुपये निकालता है और बाइक सवार युवक को थमा देता है। साइकिल सवार से जब पूछा गया कि उसने युवक को पैसे क्यों दिए, तो उसने बताया कि इतनी दूर बाइक से धक्का मारा, यह उसी का मेहनताना है। यह भी बताया कि इस जैसे कई युवक हैं जो प्रतिदिन कोयला लदी साइकिल को धक्का मारकर एक हजार से 1500 रुपये तक कमा लेते हैं। मुझे भी राहत मिल जाती है।
[2:15 PM, 1/21/2020] Sanjeet N11: मंदी की मार में एक और अंतरराष्ट्रीय कंपनी हुई चीत, खाना डिलीवर करने वाली कंपनी UBER EATS हुई बंद, जोमैटो ने किया अधिग्रहण

ऑनलाइन खाना डिलिवर करने वाली कंपनी जोमैटो ने उबर ईट्स इंडिया को अधिगृहीत कर लिया है। सूत्रों के हवाले से मिली सूचना के मुताबिक, उबर के पास अब सिर्फ 9.9 फीसदी शेयर होंगे। बता दें कि कैब सर्विस देने वाली कंपनी ऊबर की खाना डिलिवर करने वाली शाखा भारत में कुछ खास अच्छा नहीं कर पा रही थी। ऐसे में पहले से ही इसके अपने प्रतिद्वंदी जोमैटो के हाथों में बेचे जाने की खबरें थीं।

बताया जा रहा है कि उबर की अपनी कंपनी पॉलिसी है कि वे अगर मार्केट में पहले या दूसरे नंबर पर नहीं है तो वह बाजार छोड़ देते हैं। ऐसे में यह फैसला इसी नीति के तहत लिया गया माना जा रहा है। हालांकि, कंपनी के सूत्रों ने स्पष्ट किया है कि यह अधिग्रहण केवल भारत में उबर ईट्स के लिए है…

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top