Connect with us

व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव पर सरकार आई हरकत में, टेलीग्राम और सिग्नल के करोड़ों डाउनलोड

खबर सीधे आप तक

व्हाट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी में बदलाव पर सरकार आई हरकत में, टेलीग्राम और सिग्नल के करोड़ों डाउनलोड

नई दिल्ली:- वॉट्सएप की प्राइवेसी पॉलिसी में हो रहे बदलाव पर केंद्र सरकार की भी नजर है। सरकार का सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय वॉट्सएप द्वारा घोषित प्राइवेसी पॉलिसी में होने वाले बदलाव की समीक्षा कर रहा है। वॉट्सएप के विवादों में घिरे बदलावों में यूजर्स के डेटा को फेसबुक के अन्य उत्पादों और सेवाओं से जोड़ा गया है।


भारत में वॉट्सएप के यूजर्स की संख्या 40 करोड़ से अधिक है। भारत वैश्विक स्तर पर वॉट्सएप के सबसे बड़े बाजारों में से है। सूत्रों ने बताया कि वॉट्सएप के नीति अपडेट का मौजूदा कानूनी रूपरेखा के परिप्रेक्ष्य में आकलन किया जाएगा। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने अभी तक वॉट्सएप से किसी तरह का स्पष्टीकरण नहीं मांगा है।
वैसे जानकारी मिली है कि इस बारे में जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

जहां आम आदमी वॉट्सएप के इन बदलावों को लेकर परेशान है तो कारोबार जगत ने इस कदम को लेकर चिंता जताई है।


वॉट्सएप की सर्विस और प्राइवेसी पॉलिसी पर देश भर में बहस छिड़ी हुई है। देश में महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा, पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा और फोनपे के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) समीर निगम ने कहा है कि वे वॉट्सएप के प्रतिद्वंद्वी मंचों पर स्थानांतरित होंगे। महिंद्रा ने कहा कि उन्होंने सिग्नल को डाउनलोड किया है।

निगम ने भी कुछ इसी तरह की बात कही है। वहीं पेटीएम के शर्मा ने ट्वीट किया है कि कब तक हमें मनमाना दोहरा मापदंड झेलना होगा।


बदलावों की घोषणा के बाद वॉट्सएप ने कहा है कि उसके मंच का इस्तेमाल जारी रखने के लिए प्रयोगकर्ताओं को नई शर्तों तथा नीति पर 08 फरवरी तक सहमति देनी होगी। इसके बाद बड़ी संख्या में यूजर्स वॉट्सएप के प्रतिद्वंद्वी मंचों- टेलीग्राम और सिग्नल पर स्थानांतरित हो रहे हैं।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top