Connect with us

लातेहार में तीन लड़कियों को जबरन रास्‍ते से उठाया, पांच युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

खबर सीधे आप तक

लातेहार में तीन लड़कियों को जबरन रास्‍ते से उठाया, पांच युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

लातेहार । चंदवा थाना क्षेत्र के कान्तीझरना जंगल में तीन युवतियों के साथ पांच युवकों ने दुष्कर्म किया। पीड़ित के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर धराए आरोपी युवकों को लातेहार मंडलकारा भेजने की तैयारी चल रही थी। इस संबंध में पीड़ित युवती ने थाना को आवेदन देकर बताया है कि लाॅकडाउन के बीच 24 अप्रैल की मध्याहन वह गांव की अन्य दो किशोरियों के साथ पासबुक चेक कराने हेतु सेन्हा प्रज्ञा केन्द्र जा रही थी।
गांव से लगभग दो किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद सुंदरू (कुड़ू, लोहरदगा) का जेबिउल्लाह खान (पिता नेसार खान), जहूर खान (पिता जबरुद्दीन खान), सलाउद्दीन खान (पिता अफजल खान), सदाम हुसैन (पिता मुबारक हुसैन) और आजाद खान (पिता सादरूद्दीन खान) दो मोटरसायकिल पर सवार होकर पहुंचे और पूछा कि कहां जा रही हो।
यह बताने पर कि वो प्रज्ञा केन्द्र सेन्हा जा रहे हैं। जेबीउल्लाह ने तीनों को जबरन बाइक पर बिठा कर कान्ती झरना जंगल में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। अन्य चार लड़के जो दूसरी बाइक पर बैठकर साथ आए थे साथ चल रहे किशोरी युवतियों के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इसके बाद सड़क तक छोड़ने के लिए बाइक पर बिठाकर आ रहे थे कि बांझीटोला स्कूल के समीप पहले से खड़े कुछ ग्रामीणों ने उन्हें रोका और लप्पड़-थप्पड़ करने लगे। इसी बीच पुलिस पहुंची और उन्हें थाना ले आई।

युवती द्वारा दिए गए आवेदन के आधार पर 376 (डी) आईपीसी और 4/8 पोस्कों एक्ट (कांड संख्या 56/2020) के आधार पर अग्रेतर कारवाई करती पुलिस ने पांचों युवकों को लातेहार मंडलकारा भेजने की तैयारी में जुटी थी। बता दें कि एक दिन पूर्व शुक्रवार की अपराह्न गांव के ग्रामीणों ने पांच युवकों को नाबालिगों के साथ छेड़खानी करते रंगेहाथ दबोचा था।
पंचायत मुखिया को जानकारी दी थी। इसके बाद वहां पहुंची पुलिस ग्रामीणों द्वारा धरे गए युवकों को दबोच थाना ले आई थी। इसके बाद उनका मेडिकल चेकअप समेत अन्य प्रक्रियाएं जारी थी। पीड़ितों के बयान के आधार पर प्रक्रियाएं गतिमान थीं। वहीं लॉकडाउन के बीच किन परिस्थितियों में युवक एक से दूसरे जिले में प्रवेश कर गए को लेकर भी सवाल उठने लगे थे।

लातेहार में तीन लड़कियों को जबरन रास्‍ते से उठाया, पांच युवकों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

लातेहार । चंदवा थाना क्षेत्र के कान्तीझरना जंगल में तीन युवतियों के साथ पांच युवकों ने दुष्कर्म किया। पीड़ित के बयान के आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर धराए आरोपी युवकों को लातेहार मंडलकारा भेजने की तैयारी चल रही थी। इस संबंध में पीड़ित युवती ने थाना को आवेदन देकर बताया है कि लाॅकडाउन के बीच 24 अप्रैल की मध्याहन वह गांव की अन्य दो किशोरियों के साथ पासबुक चेक कराने हेतु सेन्हा प्रज्ञा केन्द्र जा रही थी।
गांव से लगभग दो किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद सुंदरू (कुड़ू, लोहरदगा) का जेबिउल्लाह खान (पिता नेसार खान), जहूर खान (पिता जबरुद्दीन खान), सलाउद्दीन खान (पिता अफजल खान), सदाम हुसैन (पिता मुबारक हुसैन) और आजाद खान (पिता सादरूद्दीन खान) दो मोटरसायकिल पर सवार होकर पहुंचे और पूछा कि कहां जा रही हो।
यह बताने पर कि वो प्रज्ञा केन्द्र सेन्हा जा रहे हैं। जेबीउल्लाह ने तीनों को जबरन बाइक पर बिठा कर कान्ती झरना जंगल में ले गया और उसके साथ दुष्कर्म किया। अन्य चार लड़के जो दूसरी बाइक पर बैठकर साथ आए थे साथ चल रहे किशोरी युवतियों के साथ बारी-बारी से दुष्कर्म किया। इसके बाद सड़क तक छोड़ने के लिए बाइक पर बिठाकर आ रहे थे कि बांझीटोला स्कूल के समीप पहले से खड़े कुछ ग्रामीणों ने उन्हें रोका और लप्पड़-थप्पड़ करने लगे। इसी बीच पुलिस पहुंची और उन्हें थाना ले आई।

युवती द्वारा दिए गए आवेदन के आधार पर 376 (डी) आईपीसी और 4/8 पोस्कों एक्ट (कांड संख्या 56/2020) के आधार पर अग्रेतर कारवाई करती पुलिस ने पांचों युवकों को लातेहार मंडलकारा भेजने की तैयारी में जुटी थी। बता दें कि एक दिन पूर्व शुक्रवार की अपराह्न गांव के ग्रामीणों ने पांच युवकों को नाबालिगों के साथ छेड़खानी करते रंगेहाथ दबोचा था।
पंचायत मुखिया को जानकारी दी थी। इसके बाद वहां पहुंची पुलिस ग्रामीणों द्वारा धरे गए युवकों को दबोच थाना ले आई थी। इसके बाद उनका मेडिकल चेकअप समेत अन्य प्रक्रियाएं जारी थी। पीड़ितों के बयान के आधार पर प्रक्रियाएं गतिमान थीं। वहीं लॉकडाउन के बीच किन परिस्थितियों में युवक एक से दूसरे जिले में प्रवेश कर गए को लेकर भी सवाल उठने लगे थे।

युवती द्वारा दिए गए आवेदन के आधार पर 376 (डी) आईपीसी और 4/8 पोस्कों एक्ट (कांड संख्या 56/2020) के आधार पर अग्रेतर कारवाई करती पुलिस ने पांचों युवकों को लातेहार मंडलकारा भेजने की तैयारी में जुटी थी। बता दें कि एक दिन पूर्व शुक्रवार की अपराह्न गांव के ग्रामीणों ने पांच युवकों को नाबालिगों के साथ छेड़खानी करते रंगेहाथ दबोचा था।
पंचायत मुखिया को जानकारी दी थी। इसके बाद वहां पहुंची पुलिस ग्रामीणों द्वारा धरे गए युवकों को दबोच थाना ले आई थी। इसके बाद उनका मेडिकल चेकअप समेत अन्य प्रक्रियाएं जारी थी। पीड़ितों के बयान के आधार पर प्रक्रियाएं गतिमान थीं। वहीं लॉकडाउन के बीच किन परिस्थितियों में युवक एक से दूसरे जिले में प्रवेश कर गए को लेकर भी सवाल उठने लगे थे।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top