Connect with us

लातेहार उपायुक्त अबु इमरान ने की शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा

खबर सीधे आप तक

लातेहार उपायुक्त अबु इमरान ने की शिक्षा विभाग के कार्यों की समीक्षा

  • बच्चों को गुणवता पूर्ण शिक्षा एवं सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ देने को लेकर अधिकारियों को सौंपा टास्क
  • कहा
    बच्चों के भविष्य के प्रति रहे सजग,लापरवाही बर्दाश्त नहीं………….अबु इमरान,उपायुक्त
  • गुणवता पूर्ण मध्याह्न भोजन सुनिश्चित करने की कही बात
  • आॅन लाइन शिक्षा प्रणाली विकसित करने को लेकर किया निर्देशित
  • ज्ञान सेतु के तहत बच्चों तक किताब वितरण में देरी पर जतायी नाराजगी,अविलंब किताब वितरण का दिया निर्देश
  • ड्रॉप आउट हुए बच्चों पर नजर रखने का दिया निर्देश
  • अधूरे विद्यालय भवन को एक माह के अंदर पूर्ण करने का दिया निर्देश,अविलंब यूसी जमा करने की कही बात
  • बच्चों को दिए जाने वाले पोशाक एवं किट के लिए राशि हेतु अधियाचना को लेकर डीएसई को किया निर्देशित
  • प्रत्येक विद्यालय में पानी,शौचालय एवं बिजली सुनिश्चित करने का दिया निर्देश
  • व्यवसायिक शिक्षा को लेकर भी किया चर्चा


लातेहार:- उपायुक्त अबु इमरान ने सोमवार को शिक्षा विभाग के कार्यो की समीक्षा की एवं पदाधिकारियों के साथ बच्चों को गुणवतापूर्ण शिक्षा के साथ संचालित योजनाओं का लाभ मिल सके इस पर मंथन किया। उपायुक्त श्री इबरान ने इस दौरान जिला शिक्षा पदाधिकारी को कार्य योजना बनाकर बच्चों के मानसिक विकास करने के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने को लेकर टास्क सौंपा। बैठक के दौरान उपायुक्त द्वारा सबसे पहले जिले में कक्षावार नामांकित बच्चों की जानकारी ली गई।

जिसमें जिला शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा बताया गया कि जिले में 1 कक्षा से 12 कक्षा तक कुल 1 लाख 42 हजार छात्र-छात्राऐं नामांकित है, 1 लाख 29 हजार 668 छात्र-छात्राऐं एक से आठ कक्षा के है। जिनमें से 85556 बच्चों को मध्याह्न भोजन योजना का लाभ दिया जा रहा है,शेष बच्चो को विद्यालय नियमित नहीं आने के कारण लाभ नहीं मिला है जिस पर उपायुक्त श्री इमरान के द्वारा बच्चे नियमित विद्यालय पहुंचे इसे सुनिश्चित करने का निर्देश दिया ताकि एक भी बच्चें योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं हो। इस दौरान उपायुक्त ने निर्देश दिया कि मध्यान भोजन की गुणवत्ता के साथ किसी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जाएगी ऐसे मामले पर दोषी पाए जाने पर संबंधित लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बैठक में उपायुक्त श्री इमरान के द्वारा कोरोना काल में गुणवत्तापूर्ण ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया गया l उन्होंने जूम एप्प से बच्चों को जोड़ कर गणित एवं विज्ञान की पढ़ाई सुनिश्चित करने को लेकर निर्देशित किया। समीक्षा के क्रम में उपायुक्त श्री इमरान ने विद्यालयवार पदस्थापित शिक्षको की जानकारी ली एवं बच्चों के अनुपात में शिक्षक पदस्थापित करने को लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया । इस दौरान उन्होंने मैटिक एवं इंटर के तीन वर्षो के परीक्षा परिणाम देखा एवं बेहतर शिक्षा प्रणाली विकसित कर परीक्षा परिणाम में सुधार करने के लिए योजना बना कर कार्य करने का निर्देश दिया।

बैठक के दौरान उन्होंने जिले में अधूरे विद्यालय भवन को एक माह के अंदर पूरा करने का निर्देश दिया एवं विद्यालय भवन बनने के बाद भी यूसी जमा नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए दस दिनों के अंदर उपयोगिता प्रमाण पत्र जमा करने का निर्देश दिया एवं ऐसा नहीं होने पर जबावदेही तय करते हुए कार्रवाई सुनिश्चित करने की बात कही। समीक्षा क्रम में उपायुक्त के द्वारा बच्चों को दिए जाने वाले पोशाक एवं किट की जानकारी ली गई जिसमें इस हेतु अबतक राशि नहीं आने की बात बतायी गई जिस पर उपायुक्त श्री इमरान ने पत्र लिख कर पोशाक एवं किट की राशि हेतु अधियाचना भेजने के लिए निर्देशित किया।

बैठक में अन्य कई महत्वपूर्ण मुददो पर चर्चा की गई जिसके बाद उपायुक्त अबु इमरान के द्वारा जिला शिक्षा पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। मौके पर उप विकास आयुक्त सुरेन्द्र कुमार वर्मा,जिला शिक्षा पदाधिकारी छठु विजय सिंह,एडीपीओ अशोक कुमार,एडीएफ प्रियंका अग्रवाल,सहायक अभियंता दिलीप कुमार,संतोष कुमार समेत अन्य कर्मी मौजूद थे।

विद्यालय में पुस्तकालय खोलने का निर्देश

शिक्षा विभाग की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त अबु इमरान ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को बच्चों के मानसिक विकास करने को लेकर प्रत्येक विद्यालय में एक पुस्तकालय खोलने को लेकर निर्देशित किया। उन्होंने निर्देश दिए कि विद्यालय भवन में एक ऐसे कमरा विकसित किया जाए जहां बच्चें पुस्तकों का अध्यन कर सकें।

आंगनबाड़ी केन्द्र को माॅडल बनाने की बनी योजना

उपायुक्त अबु इमरान ने कहा कि बच्चों को सबसे पहली शिक्षा आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ही मिलती है। उन्होंने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को जिले के लगभग एक सौ आंगनबाड़ी केन्द्रों को माॅडल बनाने एवं बच्चों के मनोरंजन के साधन को देखते हुए केन्द्र को विकसित करने को लेकर निर्देशित किया।

ड्रॉप आउट पर रखे नजर

शिक्षा विभाग की समीक्षा के क्रम में उपायुक्त अबु इमरान ने पाया कि उच्च शिक्षा ग्रहण करने के पूर्व ही बच्चे ड्रॉपआउट हो जा रहे है, जिस पर उन्होंने असंतोष व्यक्त किया एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी को स्पष्ट निर्देशित किया कि विद्यालय से बच्चे ड्रॉप आउट नहीं हो इस पर विशेष नजर रखें एवं ड्रॉप आउट होने वाले बच्चों को चिन्हित कर विद्यालय से जोड़ने की बात कही।

प्रत्येक विद्यालय में पानी,शौचालय एवं बिजली सुनिश्चित करने का दिया निर्देश

उपायुक्त अबु इमरान ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देशित किया कि जिले के प्रत्येक विद्यालय में पानी,शौचालय एवं बिजली सुनिश्चित करने की बात कही ताकि बच्चों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

To Top