Connect with us

पुल निर्माण में कार्यरत कर्मियों की पिटाई के बाद काम रहा बंद

खबर सीधे आप तक

पुल निर्माण में कार्यरत कर्मियों की पिटाई के बाद काम रहा बंद

लातेहार : प्रखंड मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूर चँदवा थाना क्षेत्र के उग्रवाद प्रभावित मरमर-केकराही माल्हन पथ पर मरमर पुल निर्माण की देखरेख में लगे तीन कर्मियों की पिटाई के बाद गांव समेत आसपास के क्षेत्रों में दहशत का माहौल है। घटना के दो दिन बाद भी निर्माण कार्य बंद रहा।

निर्माण कार्य एरिया में सन्नाटा पसरा रहा।

उग्रवादियों द्वारा कर्मियों की पिटाई और काम बंद होने के बाद ग्रामीण भी सहमे रहे। शनिवार को भी एसडीपीओ विरेन्द्र राम, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी मदन कुमार शर्मा, प्रशिक्षु एसआई लालचंद बेदिया और पुलिस बल घटना स्थल पहुंची और वस्तुस्थिति का जायजा ले उग्रवादियों के विरूद्ध कारवाई का संकेत दिया।

क्या था मामला:

कुछ दिनों पूर्व थाना क्षेत्र के मरमर गांव के समीप विशाल कंस्टक्शन द्वारा मरमर नदी पर पुल का निर्माण कार्य शुरू किया गया था।

दो दिन पूर्व 2 जुलाई, गुरूवार की मध्यरात्रि पूर्व कथित जेएसजेएमएम नामक उग्रवादी संगठन द्वारा कार्यरत कर्मियों की पिटाई की गई।

विशाल कंस्टक्शन के तीन कर्मियों मुन्ना ठाकुर (बिहार), दशरथ भगत (गुमला) व ओम प्रकाश कुमार (लातेहार) को अपने कब्जे में ले उग्रवादियों ने पिटाई की थी। उनके मोबाइल छीन लिए थे।
बिना बात किए काम शुरू करने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी दी थी।

पिटाई के बाद उग्रवादियों ने एक कर्मी के गंजी परं पीठ के साइड में उग्रवादी संगठन जेएसजेएमएम संगठन का नाम लिखा।

संगठन की अवहेलना कर काम शुरू करने की स्थिति में अंजाम भुगतने की चेतावनी भी दी थी।

कहते हैं डीएसपी:

एसडीपीओ विरेन्द्र राम ने बताया कि पुलिस रणनीति के तहत कार्य कर रही है। अपराध पर अंकुश के लिए पुलिस तत्पर है। उग्रवादी हों अथवा अपराधी, बख्शे नहीं जाएंगे।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top