Connect with us

पुलिस अधीक्षक ने पुलिसकर्मियों को पूरी मुस्तैदी रखते हुए आवाजाही पर रोक लगाने का दिया निदेश

खबर सीधे आप तक

पुलिस अधीक्षक ने पुलिसकर्मियों को पूरी मुस्तैदी रखते हुए आवाजाही पर रोक लगाने का दिया निदेश

मेदिनीनगर (पलामू) :मरीज के गांव को शनिवार की देर शाम से ही कर दिया गया है सील, लगातार हो रही माईकिंग एवं सैनेटाइजेशन का कार्य, उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सुविधाएं

पलामू जिले में लेस्लीगंज प्रखंड क्षेत्र में 3 लोगों को कोरोना टेस्ट पॉजिटिव मिलने के एक दिन बाद रविवार को एक बार फिर उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा सहित अन्य अधिकारियों ने मरीज के गांव पहुंचकर स्थिति की अपडेट जानकारी ली। अधिकारियों ने गांव का जायजा लिया। गांव को शनिवार की देर शाम से ही पूरी तरह से सिल कर दिया गया है। पुलिसकर्मियों की तैनाती की गयी है, ताकि गांव में किसी व्यक्ति की आवाजाही नहीं हो सके। 
उपायुक्त डॉ. शातनु कुमार अग्रहरि ने सील गांवों की गहणता से सर्वे कराने का निदेश दिया। सर्वे का कार्य सुबह से ही लगातार जारी है। साथ ही सील क्षेत्र में रह रहे लोगों के लिए राशन का पैकेट और पशुओं के लिए पशुपालक किसानों को पशु   चारा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने सभी को घरों में रहने की अपील की है, ताकि संक्रमण से बचा जा सके। उन्होंने कहा है कि सील क्षेत्र के लोगों के लिए पलामू जिला प्रशासन की ओर से राशन/खाद्य सामग्री का प्रबंध किया जा रहा है। किसी को घबराने की आवश्यकता नहीं है। पूरी स्थिति नियंत्रण में हैं।  

गांव का जायजा लेने के क्रम में उपायुक्त ने एक व्यक्ति द्वारा एक बच्ची को गोद में लेकर घूमते हुए पाया। इस स्थिति में व्यक्ति से घूमने का कारण पूछा और  उसे अपने घरों में रहने की बातें कहीं। साथ ही बच्ची का फौरन इलाज करवाने का निदेश दिया। वहीं वहां तैनात स्वास्थ्य कर्मियों को उस बच्ची की स्वास्थ्य जांच करने का निदेश दिया। 

पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा ने गांव में कैंप कर रहे पुलिसकर्मियों को पूरी मुस्तैदी के साथ कार्य करते हुए आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का निदेश दिया है। उन्होंने कहा कि गांव में जो बैरिकेडिंग किया गया है, उसपर पूरी सख्ती रखते आवाजाही नहीं होने देने का निदेश दिया है। अधिकारी व पुलिस कर्मी कैंप कर रहे हैं। वहीं अधिकारी भी जमें हुए हैं। 
मरीज के गांव में उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा, सिविल सर्जन डॉ. जॉन एफ केनेडी  एवं नजारत उप-समाहर्ता शैलेश कुमार, समाज कल्याण पदाधिकारी आफताब आलम, अनुमंडल पदाधिकारी सुरजीत कुमार सिंह, डीएसपी सुरजीत कुमार आदि अधिकारी पहुंचे हैं। 

पूरे गांव को  लगातार किया जा रहा है सैनिटाइज

कोरोना वायरस संक्रमित मरीज के गांव  की सड़क एवं घरों तथा आसपास के स्थानों को लगातार सैनिटाइज किया जा रहा है। sodium hypochlorite से फायर बिग्रेड की गाड़ी की मदद  से सैनिटाइजेशन का कार्य शनिवार की रात्रि से ही जारी है। उपायुक्त ने वहां मौजूद पदाधिकारियों से सैनिटाइजेशन की अपडेट जानकारी लेते हुए नगर निगम से समन्वय स्थापित कर फायर बिग्रेड की गाड़ियों से पूरे कंटेन्मेंट जोन को लगातार सैनिटाइज करने का निर्देश दिया।

गांव में चिकित्सकों की टीमः

मरीज के गांव में सिविल सर्जन डॉ. जॉन एफ केनेडी के नेतृत्व में चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मियों की टीम पहुंची है, लगातार जांच कार्य भी चल रहा है। पूरी सुरक्षा में चिकित्सक एवं स्वास्थ्य कर्मियों की टीम लगी है। वहीं एंबुलेंस भी है।

क्षेत्र में चल रहा सर्वेक्षण कार्य

 मरीज के गांव में डोर टू डोर सर्वेक्षण का कार्य चल रहा है। प्रत्येक  घरों में जाकर आंगनवाड़ी सेविका, सहिया सर्वे कार्य में जुटी हैं। गांव के माइक्रो प्लान के अनुरूप  सर्वे का कार्य तेजी से चल रहा है। 

माइकिंग से किया जा रहा अपील

उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने गांव क्षेत्र में पीसीआर को भ्रमणशील रखने का निदेश दिया। साथ ही ध्वनि विस्तारक यंत्र से लगातार माइकिंग कर कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण से बचाव तथा लॉक डाउन एवं कंटेन्मेंट जोन घोषित होने की स्थिति में  सभी से घरों में रहने की अपील करना सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। इस क्षेत्र में माईकिंग का कार्य शनिवार की रात से ही जारी है।

 लाइटिंग की व्यवस्था करने का दिया निर्देश

 उपायुक्त ने मरीज के गांव क्षेत्र के अंधेरे वाले स्थानों पर एवं अस्थाई पुलिस पिकेट के समीप लाइटिंग की व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। 

विदित हो कि  कोरोना वायरस के संक्रमण से  बचाव को लेकर पलामू जिला प्रशासन  पूर्व से ही पूरी तरह से तत्पर है। शनिवार की देर शाम व्यक्ति की कोरोना पॉजेटिव होने की सूचना के साथ ही उपायुक्त डॉ. शांतनु कुमार अग्रहरि एवं पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा के निर्देश पर पूरे क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित करते हुए उसे सील कर दिया गया था। तभी से सभी वरीय पदाधिकारी गांव में कैंप किये हुए हैं। कोरेन्टाइन सेंटर को भी रात में ही पूरी तरह से सील कर दिया गया है।  
 
Covid-19 सम्बन्धित समस्या पर यहां करें सम्पर्क:

कोरोना वायरस टॉल फ्री हेल्पलाइन नंबर- 1950

जिला नियंत्रण कक्ष हेल्पलाइन: 06562-222077

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top