Connect with us

तेरेगा पंचायत के स्वास्थ्य केन्द्र केन्दाडीह का निरीक्षण

खबर सीधे आप तक

तेरेगा पंचायत के स्वास्थ्य केन्द्र केन्दाडीह का निरीक्षण

घाटशिला __प्रखण्ड विकास पदाधिकारी-सह-अंचलाधिकारी, मुसाबनी के द्वारा तेरेगा पंचायत के स्वास्थ्य केन्द्र केन्दाडीह का निरीक्षण किया गया। अद्योहस्ताक्षरी द्वारा केन्द्र के सभी कक्ष, शौचालय, पेयजल, केन्द्र की साफ-सफाई आदि का निरीक्षण किया गया। सर्वप्रथम ओ0पी0डी0 का निरीक्षण किया गया जहा डाक्टर द्वारा मरीजों के जांच करते हुए पाया गया। अद्योहस्ताक्षरी द्वारा चिकित्सा जांच पूस्तक का जांच की गई जिसमें 12ः30 तक 58 मरीजों के जांच किया गया। आकास्मिक कक्षा में एक मरीज टुसू मुर्मू से बात करने पर पता चला कि रात को भोजन नहीं दिया गया है तो अद्योहस्ताक्षरी द्वारा संबंधित कर्मी को फटकार लगाई एवं ससमय सभी को भोजन देने का निदेष दी गई। किचन साफ-सफाई नहीं होने के कारण संबंधित कर्मी को फटकार लगाई एवं प्रतिदिन मेनू की आधार पर मरीजों को भोजन देने का निदेष दी गई। ड्ेसिग रूप, आकास्मिक कक्ष, दवाखाना का जांच की गई। दवाखाना में फरमाषिश्ट श्री दिलीप कुमार एवं संतोश कुमार द्वारा दवा वितरण पंजी का अद्यतन नहीं किया गया है। जिसमें दिनांक 09.12.2019 को तीन ,31.12.2019 को एक, 10.01.2020 को एक, 20 एवं 21 जनवरी को 2020 को एक-एक, 23 एवं 24 जनवरी को एक एवं 3 तथा 25 एवं 26 जनवरी को एक-एक मरीजों को दवा दी गई है। उक्त दोनो फरमाषिश्ट को एक सप्ताह के अन्दर पंजी को दुरूस्त करने का निदेष दिया गया। स्टॅाक पंजी दिनांक 19.07.2019 के बाद अद्यतन नहीं किया गया है। संबंधित अधिकारियों को पूरा करने का निदेष दी गई। इस प्रसव पंजी की जांच की गई जिसमें इस माह में कुल 81 बच्चों का जन्म हुआ है। अद्योहस्ताक्षरी द्वारा कुपोशण उपचार केन्द्र के निरीक्षण किया गया। 10 वेड में 07 बेड में बच्चें एवं उसके परिजन थे। अद्योहस्ताक्षरी के पुछताछ के क्रम में ज्ञात हुआ कि उन्हे 100 रूपए प्रतिदिन के साथा खाना एवं पोशहार मिल रहाहै। एम0टी0सी0 केन्द्र में एक सफाई कर्मी को प्रतिनियुक्त करने का निदेष दिया गया ताकि वहां कार्य सुचारू रूप से चल सके। अद्योहस्ताक्षरी द्वारा रोस्टर के अनुसार डाॅक्टरों की उपस्थितिके साथ मरिजों की स्वास्थ्य जांच एवं सभी सुविधा उपलब्घ कराने का निदेष दिया तथा जो भी विसंगतियाॅ पायी गई उसे अगले एक सप्ताह में दुरूस्त करने का निदेष दिया गया। जांच के क्रम में पता चला की सफाई कर्मी को 6 माह का वेतन नहीं दिया गया है तो संबंधित अधिकारी को समस्या का समाधान करने का निदेष दी गई तथा लैवेटरी की जांच की गई जिसमें 70 लोगों का जांच एवं एक्स-रे में 8 मरीजों को किया गया जन्म-मृत्यू निबंधन कक्ष भी जांच की गई तथा वैक्सीन की जांच के क्रम में एक डीपर फ्रिजर को ठिक करने का निदेष दी गई तथा स्वास्थ्य केन्द्र के बाहर कुॅआ की सफाई करने का निदेष दी गई। अद्योहस्ताक्षरी द्वारा मुर्गाघुटू पंचायत भवन का निरीक्षण करने पहुंचे। लेकिन पंचायत भवन बंद पाया गया। पंचायत भवन बंद होने के कारण संबंधित मुखिया, पंचायत सचिव, रोजगार सेवक, प्रज्ञा केन्द्र संचालक आदि से स्पश्टीकरण किया गया एवं एक दिन का वेतन/मानदेय काटने का निदेष दिया गया। आॅगनबाडी केन्द्र संख्या 12 कुलगोड़ा की जांच की गई जिसमें सहिया द्वारा बच्चों को बाहर में षिक्षा देने का काम कर रही थी। हाजरी पंजी की जांच के क्रम में पाया गया कि दिनांक 24.01.2020 के बाद अद्यतन नहीं किया गया है बच्चों के लिए भोजन भी नहीं बनाया गया है। इससे संबंधित सी0डी0पी0ओ एवं सेविका से स्पश्टीकरण करने का निदेष दिया गया एवं आॅगनबाड़ी केन्द्र तो स्थानतंरण करते हुए 50 मीटरी की दूरी पर स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय में अतिरिक्त कमरे में से एक कक्ष उपलब्घ करा दिया गया तथा निदेष दी गई की। जबतक आंगनबाडी केन्द्र बन नहीं जाता है तबतक उक्त कक्ष को आॅगनबाडी केन्द्र के लिए उपयोग करेगी एवं बच्चों का आहार यही बनाएगी। उत्क्रमित मध्य विद्यालय के जांच के क्रम में पाया गया कि षिक्षकों द्वारा बच्चों को बारमदा में ही बैठकर पठन कराया जा रहा है तो अद्योस्ताक्षरी द्वारा प्रधानाध्यापक को फटकार लगाई एवं सभी बच्चंे को अपने-अपने कक्ष में ही बैठने का निदेष दी दिया गया। प्रधानाध्यापक ने बताया कि विद्यालय में कुल 4 षिक्षकों के माध्यम से 125 बच्चे को पाठन कराया जाता है। अद्योस्तारक्षरी द्वारा बारी-बारी से सभी कक्ष का निरीक्षण किया गया एवं बच्चों को विशय सारणी के माध्यम से नहीं पढ़ाया जा रहा है एवं बच्चों को इसके बारे में जानकारी तक नहीं है। सभी षिक्षकों को निदेष दी गई बच्चों के पाठन में किसी प्रकार के लापरवाही ना करे। अद्योस्ताक्षरी द्वारा पूरनापानी के समीप निर्माणाधित कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय की जांच की गई जंहा कार्य बंद पाया गया। इससे संबंधित बी0ई0ओ0 एवं कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय वार्डन से कारण पुछा गया कि किस परस्थिति में उक्त भवन का निर्माण कार्य बंद है।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top