Connect with us

कोयलनदी पर बना पुल में आया दरार

खबर सीधे आप तक

कोयलनदी पर बना पुल में आया दरार

राउरकेला : राउरकेला से नुआगांव होकर रांची को जोड़ने वाली सड़क पर झीरपानी में कोयलनदी पर बना पुल के लोकार्पण के चार साल भी अभी पूरे नहीं हुए कि इसमें बड़ा दरार आ गई है। जो पुल से गुजरने वाले भारी वाहनों के लिए काफी खतरनाक साबित हो सकती है। इस नए पुल पर बनी दरार को ठीक करने के लिए विभाग की ओर से कोई पहल नहीं की जा रही है।

राउरकेला से बीरमित्रपुर, सिमडेगा होकर झारखंड की राजधानी को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग-143 एकमात्र साधन था। इस मार्ग पर किन्हीं कारणों अगर जाम लग जाए तो लोगों के पास नजदीकी कोई विकल्प नहीं था। ऐसी परिस्थिति में लोगों को राउरकेला से बंडामुंडा, बिसरा होकर जराईकेला से मनोहरपुर होकर रांची रोड जाना पड़ता था। इसमें करीब डेढ़ से दो सौ किलोमीटर तक अधिक दूरी तय करनी पड़ती थी। राउरकेला से नुआगांव प्रखंड के साथ जोड़ने तथा हाटिगहोड़े में रांची रोड को जोड़ कर बानो से तोरपा होकर रांची जाने का रास्ता बनाने की योजना बनी। इससे रांची एवं राउरकेला की दूरी करीब सौ किलोमीटर कम हो जाती।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए झीरपानी में कोयलनदी पर एक पुल की जरूरत महसूस की जा रही थी। सुंदरगढ़ के सांसद जुएल ओराम के प्रयास से यहां पुल बनाने के लिए राज्य सरकार की सहायता से कोष का प्रबंध किया गया। झीरपानी में 366 मीटर लंबे पुल निर्माण के लिए 1260.230 लाख रुपये की योजना तैयार की गयी। लोक निर्माण विभाग की ओर से निर्माण कार्य 25 सितंबर 2009 को आरंभ हुआ तथा 2016 में इसे पूरा कर लिया गया। इसके बाद मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 24 फरवरी 2016 को इसका लोकर्पण किया था। इसके चार साल भी पूरे नहीं हुए कि पुल पर दरार दिखाई देने लगा है। मिटकुंदरी साइड में करीब 10 फीट लंबा एवं तीन फीट चौड़ा दरार है। यहां से होकर भारी वाहनों के गुजरने से कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

To Top