Connect with us

आदिम जनजाति परिवार के तीन लोगों की मौत पर भाजपा ने हेमंत सरकार को घेरा

खबर सीधे आप तक

आदिम जनजाति परिवार के तीन लोगों की मौत पर भाजपा ने हेमंत सरकार को घेरा

लातेहार में शुक्रवार को आदिम जनजाति परिवार के तीन लोगों के अचानक आयी बाढ़ में फंस कर कर हुई मौत के बाद कथित प्रशासनिक निष्क्रियता को लेकर भाजपा के अनुसूचित जनजाति मोर्चा के नेताओं ने सरकार पर आदिवासी हितों के प्रति संवेदनहीन होने का आरोप लगाया है।

दूसरी तरफ झारखण्ड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) ने आरोपों को सिरे से ख़ारिज करते हुए कहा कि बारिश और बाढ़ जैसी प्राकृतिक आपदाओं के लिए सरकार को जिम्मेवार ठहरना ठीक नहीं है।

भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पूर्व आईपीएस अधिकारी अरुण उरांव ने कहा कि आदिवासी मूलवासी के विकास के नाम पर सत्ता में आई हेमंत सरकार को आदिवासियों की कोई चिंता नही है।

आदिवासी समाज मे निराशा है। इस सरकार में आदिवासी असुरक्षित हैं।

उन्होंने आगे कहा कि यह सरकार ‘आपके द्वार’ कार्यक्रम का दावा करती है, दम्भ भरती है परंतु आदिवासियों की सुध लेने वाला कोई नही है।

उरांव ने कहा कि 6 मार्च को लातेहार सदर प्रखंड के कुड़पानी टोला में आदिम जनजाति परिवार के तीन सदस्य नदी में अचानक आई बाढ़ से बहकर मर गए।

बड़ी मुश्किल से मृतकों की लाश मिली। उन्होंने कहा कि अभी तक सरकार का कोई भी प्रतिनिधि इनकी सुध लेने नही पहुंचा । यह सरकार पूरी तरह संवेदन हीन सरकार है।

उरांव ने कहा कि सरकार बनते ही आदिवासियों की नृशंश हत्या से सरकार की आदिवासियों के प्रति कितनी चिंता है। यह बात लोग समझ चुके हैं।

इसके पूर्व भी नवजात की डेड बॉडी को एम्बुलेंस के अभाव में पॉलीथिन के माध्यम से घर तक परिजन द्वारा ले जाने की खबर आई थी।

झारखण्ड भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा के अध्यक्ष रामकुमार पहन ने कहा कि दिनांक 6 मार्च को बारिश की पानी मे दासो परहिया सहित पत्नी संगीता देवी एवं उसकी पुत्री छलकली कुमारी नदी में बह गई थी।दो दिन बीत जाने के बाद भी सरकार एवं प्रशासन ने इनका कोई सुध नही लिया।आदिवासी का हितैषी कहने वाली सरकार एवं प्रशासन को इसकी जानकारी होने के बाद भी इसपर कोई पहल नही किया गया।स्थानिय ग्रामीण स्वयं से खोजबीन करके आज सुबह नदी से शव बरामद किया। इस घटना की पूर्ण जानकारी होने के बाद भी सरकार ने इसपर कोई संज्ञान नही लिया। यह सरकार सिर्फ आदिवासी हित का ढोंग करती है।भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा ऐसी सरकार की कड़ी निंदा करती है और आने वाले समय मे आदिवासी समाज इसका मुँह तोड़ जवाब देगी।

पाहन ने बताया कि 09 मार्च को भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा का एक प्रतिनिधिमंडल प्रदेश मंत्री अवधेश सिंह चेरो के नेतृत्व में मृतक परिवार के गांव जाकर परिवार के अन्य सदस्यों एवं गांव वालों से मुलाकात करेगा।

वहीं झामुमो के केंद्रीय महासचिव और प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि मौतों पर सरकार त्वरित संज्ञान लेगी और इस दिशा में आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अचानक आई बारिश या बाढ़ जैसी प्राकृतिक घटनाओं के लिए सरकार को जिम्मेवार ठहराना ठीक बात नहीं है।

Continue Reading
You may also like...
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in खबर सीधे आप तक

विज्ञापन | Advertisement

ट्रेन्डिंग् टॉपिक्स

विज्ञापन के लिए संपर्क करें: +91-8138068766

To Top